बाल संस्कार

वीर बाला कनकलता

वीर बाला कनकलता चढ़ता यौवन खिलता बचपन केसरिया कैशौर्य समर्पण। जीवन पाया जिस माटी में उस…

बालवीर सोमा भाई

बालवीर सोमा भाई अध खिले ही चढ़ गए जो सुमन अपनी मातृभू पर । स्वातन्त्र्य उपवन…

दृढ़ निश्चयी बालाजी

दृढ़ निश्चयी बालाजी चिंगारियाँ अंगार से जब आग लेकर छूटती हैं। बुझने से पहले वह समूचा…

स्वतंत्रता के सात दीवाने राष्ट्रभक्ति

जब छात्रशक्ति के हृदयों में फलने लगती है। पर्वत सी हो विकट चुनौती पत्ते सी हिलने…

शेन्दुणी का लाल – सुखलाल

शेन्दुणी का लाल – सुखलाल देश में रह देश के जो शत्रुओं के मित्र हैं। उन…

बलिदानी शरिश

बलिदानी शरिश रक्त में भीगी हुई वे लाल माटी पर पड़े थे, उन में छोटे सही…

नेतृत्वकर्ता नारायण

नेतृत्वकर्ता नारायण स्वातन्त्र्य लक्ष्मी के चरण कुंकुम नहीं शोणित धुले हैं। अनगिनत बलिदान देकर माँ के…

जान की बाजी लगा दी बाजी राउत ने

जान की बाजी लगा दी बाजी राउत ने राष्ट्रभक्ति के महाज्वार में उतर चुके जलपोत बड़े…

हठ का धनी शंभुनारायण

हठ का धनी शंभुनारायण मातृभू घायल दिखे तब घाव अपने कौन गिनता? यातनाएँ क्या डिगाएँ मृत्यु…

आजादी के मतवाले

आजादी के मतवाले बलि देकर भी मातृभूमि का मान बढ़ाना आता है। खेल मृत्यु के साथ…